रविवार, 13 अगस्त 2017

आज़ादी के अपने मायनों का जहान !


आज़ादी के अपने मायनों का जहान,  मेरा प्यारा हिन्दुस्तान ।
कोई देश के लिए जी जी जान से लड़ता ,
कोई देश के खिलाफ जहर उगलता ।
कोई अपने कर्तव्यों पर खरा उतरता ,
कोई सिर्फ अपने हकों के लिए लड़ता ।
कोई अभावों में भी खुश रह जाता ,
किसी को सब कुछ मिलने पर भी डर सताता ।
फिर भी मेरा देश महान , सदा अमर है मेरा हिन्दुस्तान ।

कोई टिप्पणी नहीं:

आओ संभाल लें रिश्तों को दरकने से पहले !

आओ संभाल  लें  रिश्तों को दरकने से पहले , करें एक पहल नजरों में खटकने से पहले। माना कि कुछ अनबन हो गई हो कभी , कुछ अपने रुसवा ...