दीपों# की जगमग# से है रोशन# सारा जहाँ !

दीपों की जगमग से है रोशन सारा जहाँ , सबके त्याग और सहयोग की है सुन्दर दास्ताँ । बिन बाती के तेल भी रौशनी दे कहाँ , बिन तेल के बाती...