शुक्रवार, 15 अक्तूबर 2021

हरण हो , हरण हो !

 💐आदरणीय💐

🙏दशहरा के पावन पर्व पर सियाराम जी 

की कृपा से हम सभी के जीवन से🙏


🔥हरण हो हर दुखों का ,

🔥हरण हो हर दुर्दशाओं का ,

🔥हरण हो हर दुर्गणों का ,

🔥हरण हो हर दुविधाओं का ,

🔥हरण हो हर दिक्कतों का,

🔥हरण हो हर दरिद्रताओं का ,

🔥हरण हो हर दुष्टों  का ,

🔥हरण हो हर दु साहसियों का ,

🔥हरण हो हर दुष्ट आत्माओं का 

🔥हरण हो हर दुश्मनों का ।


🌻दशहरा पर्व की कोटि कोटि मंगलकामनाएं । 🌻

💐💐जय सियाराम जी की ।🙏🙏

2 टिप्‍पणियां:

Jyoti Dehliwal ने कहा…

सुंदर रचना। विजयादशमी की आपको एवं आपके पूरे परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं।

दीपक कुमार भानरे ने कहा…

आदरणीय ज्योति मेम , आपकी सुन्दर सी प्रतिक्रिया हेतु सादर धन्यवाद ।